Recent in Technology

कलम और तलवार Lesson-10/ Textbook-आलोक/ Class 10 Hindi

Attention Please!

नमस्कार सभी को, अगर आप क्लास १० हिंदी किताब के लेसन को ऑनलाइन पढ़ना चाहते है, तोह ये आर्टिकल आपके लिए हैं।

Class 10 Hindi Textbook-आलोक के Lesson-10 कलम और तलवार को यहाँ पर ऑनलाइन पढ़ पाएंगे।

निचे सभी लेसन का लिंक मिल जायेगा, आपने इस्सा अनुसार उन् आर्टिकल को भी आप बिलकुल फ्री में पढ़ पाएंगे धन्यबाद।

कलम और तलवार Lesson-10/ Textbook-आलोक/ Class 10 Hindi




Class 10 Assamese Textbook(Online Read)



रामधारी सिंह 'दिनकर'
(1908-1974)



राष्ट्रीयता भावनाओं के मुखर गायक कवि रामधारी सिंह 'दिनकर' का जन्म मुंगेर जिले के सिमरिया गाँव में सन् 1908 में हुआ था। 

इनकी प्रारंभिक शिक्षा ग्रामीण पाठशाला में हुई। पटना विश्वविद्यालय से सन् 1933 में आपने बी.ए. की डिग्री हासिल की। 

एक उच्च विद्यालय के प्रधानाचार्य से लेकर उप-रजिस्ट्रार, युद्ध प्रचार विभाग के उप-निदेशक, मुजफ्फरपुर के लंगट सिंह कॉलेज के हिन्दी विभागाध्यक्ष, भागलपुर विश्वविद्यालय के उपकुलपति, भारत सरकार के शिक्षा सलाहकार आदि पदों पर आपने कार्य किया। 
बाद में वे राज्यसभा के सदस्य मनोनीत किये गये। राष्ट्रीय सेवाओं के लिए आपको ‘पद्मभूषण' की उपाधि से सम्मानित किया गया। उर्वशी' महाकाव्य पर आपको ज्ञानपीठ पुरस्कार मिला था। 1974 ई. में दिनकरजी का निधन हुआ।

बचपन से ही आप ने कविता लिखी थी। 'दिनकर' एक विचारक तथा गतिशील कवि थे। 

राष्ट्रकवि मैथिलीशरण गुप्त के बाद दिनकर को राष्ट्रकवि के रूप में माना जाता है। 

रेणुका, हुँकार, रसवंती, सामधेनी, नील कुसुम, कुरुक्षेत्र, रश्मिरथी, उर्वशी, परशुराम की प्रतीक्षा, चक्रवाल आदि दिनकर जी की काव्य कृतियाँ हैं। 

दिनकरजी की भाषा सरल एवं स्पष्ट है। भावों के अनुकूल शब्दों के प्रयोग में आप निपुण हैं। 

'कलम और तलवार' नामक प्रस्तुत कविता में राष्ट्रकवि दिनकर ने कलम और तलवार-दोनों की स्वतंत्र सत्ता तथा महत्ता पर प्रकाश डाला है। 

कलम ज्ञानशक्ति का तथा तलवार दैहिक शक्ति का प्रतीक है। एक ओर, जहाँ कलम के द्वारा मनुष्य ज्ञान का दीप जला सकता है तथा विचारों की शक्ति के द्वारा समाज में नयी चेतना पैदा कर सकता है। 

वहीं दूसरी ओर युद्ध में विजयी होने के लिए तथा हिंसक पशुओं से आत्मरक्षा हेतु तलवार की आवश्यकता पड़ती है।



Class 10 Assamese Notes/Solutions






कलम और तलवार


दो में से क्या तुम्हें चाहिये, कलम या कि तलवार? 
मन में ऊँचे भाव कि तन में शक्ति अजेय अपार?
अंध कक्ष में बैठ रचोगे ऊँचे, मीठे गान? 
या तलवार पकड़ जीतोगे बाहर जा मैदान? 
जला ज्ञान का दीप सिर्फ फैलाओगे उजियाली? 
अथवा उठा कृपाण करोगे घर की भी रखवाली?
कलम देश की बड़ी शक्ति है भाव जगानेवाली, 
दिल ही नहीं दिमागों में भी आग लगाने वाली। 
पैदा करती है कलम विचारों के जलते अंगारे, 
और प्रज्ज्वलित-प्राण देश क्या कभी मरेगा मारे?
लह गर्म रखने को रखो मन में ज्वलित विचार 
हिंस्र जीव से बचने को चाहिये किन्तु, तलवार। 
एक भेद है और, जहाँ निर्भय होते नर-नारी, 
कलम उगलती आग, जहाँ अक्षर बनते चिनगारी।
जहाँ मनुष्यों के भीतर हरदम जलते हैं शोले, 
बाँहों में बिजली होती, होते दिमाग में गोले। 
जहाँ लोग पालते लहू में हलाहल की धार,
क्या चिन्ता यदि वहाँ हाथ में हुई नहीं तलवार ?






अभ्यासमाला



बोध एवं विचार 

1. पूर्ण वाक्य में उत्तर दो:

(क) कलम किसका प्रतीक है? 
(ख) तलवार किसका प्रतीक है? 
(ग) संसार में कलम और तलवार में से किसकी शक्ति असीम है? 
(घ) मीठे गान की सृष्टि किसके द्वारा होती है ? 
(ङ) युद्ध किसके बल पर जीता जा सकता है?
(च) किसमें विचारों की शक्ति होती है? 

2. अति संक्षिप्त उत्तर दो (लगभग 25 शबदों में) :

(क) कलम हमारे किस काम आती है? 
(ख) तलवार की क्या उपयोगिता है? 
(ग) 'अंध कक्ष में बैठ रचोगे ऊँचे मीठे गान'- का आशय स्पष्ट कीजिए। 
(घ) कलम विचारों के अंगारे कैसे पैदा करती है?
(ङ) अक्षर चिनगारी कैसे बनते हैं? 

3. संक्षेप में उत्तर दो (लगभग 50 शब्दों में): 

(क) हाथों में शस्त्रास्त्र न होने पर भी कलम के द्वारा समाज में फैले भ्रष्टाचार अनाचार को कैसे दूर किया जा सकता है? 
(ख) कलम और तलवार में से तुम क्या लेना पसंद करोगे और क्यों?
(ग) इस कविता से हमें क्या प्रेरणा मिलती है? 

4. सम्यक उत्तर दो (लगभग 100 शब्दों में): 

(क) 'कलम और तलवार' कविता का सारांश लिखो।
(ख) कलम और तलवार में किसकी शक्ति अधिक है? तर्क सहित अपना विचार प्रस्तुत करो। 

5. सप्रसंग व्याख्या करो: 

(क) अंध कक्ष में बैठ रचोगे ऊँचे मीठे गान?
या तलवार पकड़ जीतोगे बाहर जा मैदान?

(ख) लहू गर्म रखने को रखो मन में ज्वलित विचार,
हिंस्र जीव से बचने को चाहिए किंतु, तलवार। 

(ग) जहाँ लोग पालते लहू में हलाहल की धार,
क्या चिंता यदि वहाँ हाथ में हुई नहीं तलवार? 

भाषा एवं व्याकरण ज्ञान 

1. निम्नांकित शब्दों के दो-दो पर्यायवाची शब्द लिखो - 
घर, तलवार, दीप, लहू, बिजली, तन, अपार, शक्ति 

2. एक ही शब्द के कई-कई अर्थ होते हैं : इन्हें 'अनेकार्थी शब्द' कहते हैं।
यथा- 'पानी' के चार अर्थ होते हैं- जल, शान, चमक और प्रतिष्ठा। निम्नांकित शब्दों के दो-दो अर्थ लिखो -
कलम, कक्षा, मैदान, अक्षर 

योग्यता-विस्तार 

1. 'कलम और तलवार की उपयोगिता' विषय पर एक निबंध लिखने का प्रयास करो। 
2. 'कलम देश की बड़ी शक्ति है।' इस विषय पर अपनी कक्षा में एक परिचर्चा आयोजित करो। 
3. कवि दिनकर ने प्रस्तुत कविता में कहा है 'हिंस्र जीव से बचने को चाहिए किंतु तलवार।' परंतु आज के संदर्भ में यदि देखा जाए तो उन हिंसक पशुओं को मनुष्य से ही खतरा उत्पन्न हो गया है। क्या तुम बता सकते हो कि आज मानव उन हिंसक पशुओं को किस प्रकार हानि पहुँचा रहा है?

शब्दार्थ एवं टिप्पणी
तन में = शरीर में
हिंस्त्र = हिंसक, खूनी 
अजेय = जिसे जीता न जा सके 
चिनगारी = स्फुर्लिंग 
उजियाली = आलोक, प्रकाश
हलाहल =  कालकूट नामक विष सब कुछ विनष्ट करने की शक्ति।
कृपाण = तलवार
लहू = खून


Conclusion:

कलम और तलवार Lesson-10 class 10 hindi only for online textbook readers.





Wrote by Akshay

Post a Comment

0 Comments

People

Ad Code