Recent in Technology

chota jadugar question answer class 10 2023


chota jadugar question answer class 10 2023



छोटा जादूगर पाठ का सारांश


"छोटा जादूगर" जयशंकर प्रसाद जी की एक मार्मिक कथा है कि कैसे एक तेरह-चौदह वर्षीय लड़का आर्थिक गरीबी और प्रतिकूल परिस्थितियों से जूझते हुए जिम्मेदार होना सीखता है। एक दिन, कथावाचक ने कोलकाता में एक उत्सव में एक छोटे लड़के को देखा। उन्होंने फटा हुआ कुर्ता पहना हुआ था। वह एक धागे की रस्सी और कुछ लटकन के पत्ते ले गया।

बेचारे के चेहरे पर पीड़ा और धैर्य की लकीर थी। कथावाचक उस चौदह वर्षीय बच्चे की ओर आकर्षित हुआ। कथावाचक ने उसे शरबत पीने के लिए मजबूर किया। बच्चे के लक्ष्य को निशाना बनाने के खेल में निशाना लगाना अटूट था। उन्होंने बारह खिलौने अर्जित किए और अर्जित किए। बातचीत के दौरान बच्चे ने अपना परिचय छोटा जादूगर के रूप में दिया। उसकी मां बीमार है। देश की आजादी की खातिर पिता जेल गए हैं।

वह जादू की चाल चलाकर अपनी मां के इलाज के लिए पैसे जुटाता है। छोटा जादूगर कोलकाता के बॉटनिकल गार्डन में कथावाचक से दूसरी बार मिलता है। वह कथावाचक की पत्नी को जादू का खेल दिखाता है। लेकिन आज उसका चेहरा सुस्त लग रहा था। कथावाचक ने पूछताछ की तो उसने बताया कि उसकी मां ने उसे आज जल्दी आने का आग्रह किया था। कथाकार छोटे जादूगर का अपनी झोपड़ी में पीछा करता है, जहां उसे अपनी मां की मृत्यु का पता चलता है।


लड़का तमाशा देखने परदे में क्यों नहीं गया था

लड़का शो देखने के लिए पर्दे के पीछे नहीं गया क्योंकि इसमें पैसे खर्च हुए, और लड़के के पास कोई नहीं था।

Post a Comment

0 Comments

People

Ad Code